8-Feb-2020, Rohtak

रोहतक। रोहतक के विधायक भारत भूषण बतरा की पत्रकार वार्ता के बाद प्रदेश के पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने जवाबी हमला बोला है। पूर्व मंत्री ग्रोवर ने कहा कि
चुनावों से पहले रोहतक के विधायक भारत भूषण बतरा कहते थे कि रोहतक के अंदर विकास का कोई काम नहीं हुआ। आज पत्रकार वार्ता में खुद स्वीकार कर रहे हैं कि केंद्र की मोदी सरकार की ओर से अमृत योजना के तहत प्रदेश की जनता के लिए करीब ढाई हजार करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट हरियाणा को मिले और उस दिशा में काम भी हुआ। उन्हें इस बात की भी तकलीफ है कि रोहतक शहर की बाहरी कालोनियों में रहने वाले गरीब लोगों की गलियों में सीवरेज की लाइन, पानी की लाइन और सड़कें क्यों बनाई गई ? लोगों को मूलभूत सुविधाएं देना भाजपा की प्राथमिकता में है। आज पत्रकार वार्ता में जिस तरह कांग्रेस के विधायक द्वारा इन सभी बाहरी कालोनियों में भाजपा सरकार ने जो मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई है, आज उस पर जो आपत्ति जताई है, वह बेहद हैरान करने वाली है। इससे साफ झलकता है कि उन्हें यह बात हजम नहीं हो रही कि गरीब लोगों को सुविधाएं क्यों प्रदान करवाई ? 10 साल के शासन में कांग्रेस इन कॉलोनियों के लोगों को सुविधाएं प्रदान नहीं करवा पाई और भाजपा ने उन्हें सुविधाएं दी तो इनके पेट में तकलीफ हो रही है। दरअसल झूठ बोलना और लोगों को गुमराह करना इनके खून में है। और भ्रष्टाचार के जो आरोप बतरा लगा रहे हैं, उनमे कोई दम नहीं। वैसे उन्हें पहले खुद के अंदर झांक कर देख लेना चाहिए। भाजपा सरकार ने निष्पक्षता और पारदर्शी तंत्र को प्राथमिकता दी है। दरअसल जिन लोगों ने अपने पिछले 10 साल के शासन में जो भ्रष्टाचार किया, उन्हें आज भी भ्रष्टाचार ही नजर आता है। पूर्व मंत्री ग्रोवर ने कहा कि हैरानी वाली बात यह है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रत्येक विधायक से 5 करोड़ रुपए के कामों का एस्टीमेट मांगा था और इसे इस साल 31 जनवरी तक भेजना था, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि भारत भूषण बतरा को विधायक बने हुए 3 माह से ज्यादा समय हो चुका है, लेकिन अभी तक सरकार के पास विकास के कामों का एस्टीमेट तक नहीं भेजा है। जबकि प्रदेश के कई विधायक सरकार के पास कामों का अपना एस्टीमेट जमा करवा चुके हैं। विधायक बतरा पत्रकार वार्ता में खुद स्वीकार कर रहे हैं कि ठंड ज्यादा थी, इसलिए घर से बाहर नहीं निकले। भगवान उन्हें सद्बुद्धि दे। ग्रोवर ने कहा कि बतरा भ्रष्टाचार के मामलों की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं, लेकिन उनके नेता भूपेंद्र हुड्डा इसे केंद्र का तोता बताते हैं। क्या बतरा को सीबीआई पर भरोसा है ? ग्रोवर ने कहा कि एलिवेटेड रेलवे ट्रैक से विस्थापित लोगों के साथ पूरा न्याय होगा। जिस तरह एलिवेटेड रोड चालू होने के बाद लोगों को राहत मिली है, ठीक वैसे ही इस प्रोजेक्ट के चालू होने के बाद राहत मिलेगी। किसी को भी घबराने की आवश्यकता नहीं है।

Share